Monday, July 22, 2024

अंधे कत्ल की गुत्थी सुलझी कोरबा

- Advertisement -

*कोरबा*

*थाना – करतला*
*अप0क्र0 -25/2022*
*धारा – 302,201,34 भादवि*

दोस्तो ने ही किया था कत्ल शव को पेट्रोल से जलाकर पहचान छिपाने का किया था प्रयास रकम लेन-देन बना हत्या का वजह एक नाबालिक सहित 04 आरोपी गिरफ्तार
घटना में प्रयुक्त चाकू एवं वाहन जप्त ।

दिनांक 05.03.2022 को थाना करतला के से लगभग 02 किलोमीटर आगे करतला नाला में अज्ञात युवक का शव पाया गया था अज्ञात आरोपीगण द्वारा अज्ञात युवक का हत्या कर शव की पहचान छुपाने के नियत से पेट्रोल डालकर शव को जला दिया गया था मामले में कोरबा पुलिस को आरोपियो को गिरफ्तार करने में सफलता मिली है पुलिस ने घटना में शामिल सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर हत्या करने में प्रयुक्त किये गये हथियार एवं वाहन सहित आरोपियों का मोबाईल जप्त कर लिया है ।
मामले का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है कि दिनांक 05.03.2022 को प्रातः थाना प्रभारी करतला उप निरी राजेश चंद्रवंशी को सूचना मिला कि थाना करतला से लगभग 02 किलोमीटर आगे करतला नाला के पास एक अधजला शव पड़ा हुआ है जिसे अज्ञात आरोपियों द्वारा हत्या कर पहचान छुपाने की नीयत से जलाने का प्रयास किया गया है । घटना की सूचना मिलने पर थाना प्रभारी करतला द्वारा घटना की सूचना वरिष्ठ अधिकारियों को दिया गया ।
मामले की गंभीरता एवं संवेदनशीलता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक कोरबा श्री भोजराम पटेल द्वारा अति. पुलिस अधीक्षक श्री अभिषेक वर्मा के नेतृत्व एवं नगर पुलिस अधीक्षक श्री योगेश साहू के पर्यवेक्षण में थाना प्रभारी करतला एवं सायबर सेल कोरबा के साथ विशेष टीम का गठन किया गया । साथ ही घटना स्थल पर फोरेसिंक एक्सपर्ट एवं डॉग स्क्वायड की टीम को भेजा गया एवं विवेचना में लगे टीम को अलग-अलग जिम्मेदारी सौपा गया । एक टीम को अज्ञात युवक के शव का पहचान, एक टीम को आस-पास के क्षेत्र के संदेहियो के बारे में पतासाजी, एक टीम को घटना स्थल एवं आस-पास के सीसीटीवी फुटेज एवं एक टीम को तकनीकी साक्ष्य एकत्रित करने की जिम्मेदारी दी गई । टीम द्वारा लगभग 200 सीसीटीवी कैमरो का अवलोकन किया गया एवं 100 से अधिक संदेहियो से पूछताछ की गई ।

पुलिस अधीक्षक श्री भोजराम पटेल द्वारा गठित विशेष टीम द्वारा घटना स्थल का बारीकी से मुआयना कर अज्ञात युवक के शव का पहचान एवं आरोपियों की तलाश शुरू की गई । चूंकि मृतक का शरीर पूरी तरह जल गया था जिसे पहचान करना मुश्किल हो रहा था, किन्तु मजबूत सूचना तन्त्र के आधार पर मृतक की पहचान कृष्णा गंगावने पिता राजेश गंगावने निवासी रानी रोड मस्जिद के पीछे कोरबा के रूप में हुआ जो कि फेरी लगार प्लास्टिक सामानो का बिक्री करने का काम करता था । मामले में मृतक की पहचान हो चुकी थी किन्तु अज्ञात हत्यारे पुलिस के पहुॅच से दूर थे । इसी दौरान टीम को सूचना मिला कि मृतक कृष्णा गंगावने का महेन्द्रा जीतो वाहन (छोटा हाथी) ग्राम चचिया के आगे लावारिस हालत में खड़ा है जिसे टीम द्वारा बरामद कर वाहन की तलाशी लेने पर वाहन के ड्रायवर सीट पर मृतक का पेन्ट एवम जूता मिला, जिससे ऐसी आशंका हो रही थी कि मृतक को पसरखेत के आस-पास हत्या कर शव को करतला नाला के पास लाकर जलाया गया है । आरोपियो द्वारा हत्या की वजह एवं पुलिस को भ्रमित करने के लिए वाहन को घटना स्थल से दूर छोड़कर मृतक के पेन्ट एवम जूता को वाहन में छोड़ दिया गया है ताकि प्रथम दृष्ट्या मामला अवैध संबंध जैसा लगे और शक की सुई स्थानीय लोगो पर जाए ।
एक टीम के द्वारा मृतक के जान-पहचान दोस्त एवं रिश्तेदारो के बारे में जानकारी एकत्रित कर एवं उनकी गतिविधियो पर नजर रख रही थी जिन्हे पता चला कि मृतक कृष्णा गंगावने की दोस्ती अमन भवरे, राजू यादव, रामजनम यादव एवं एक नाबालिक से थी सभी लोग एक ही व्यापार में लगे हुए थे । यह भी ज्ञात हुआ कि मृतक कृष्णा गंगावने एवं अमन भवरे के परिवार में लेन-देन को लेकर कोई विवाद था । सीसीटीवी फुटेज खंगालने मे लगी टीम ने पाया कि दिनांक 04.03.2022 के शाम करीब 05ः00 बजे मृतक अपने महेन्द्रा जीतो वाहन में उरगा भैसमा करतला होकर हाटी की ओर जाते हुए दिख रहा है उसके पीछे 02 मोटर सायकल मे 04 लोग जाते हुए एवं लगभग 11ः00 बजे रात को वही मोटर सायकल में वापस आते हुए दिखाई दे रहे है किन्तु मृतक का महेन्द्रा जीतो वाहन वापस नही आया है । इस आधार पर तकनीकी टीम द्वारा संदेहीगण अमन भवरे, राजू यादव, रामजनम यादव, एक नाबालिक एवं अन्य संदिग्धो पर बारीकी से पड़ताल किया गया एवं संदेहीगण अमन भवरे, राजू यादव, रामजनम यादव एवं एक नाबालिक से लगातार एवं कई चरणो मे अलग-अलग पूछताछ किया गया हर बार के पूछताछ पर संदेहीगण के बयान में कुछ न कुछ अंतर आ रहा था इस आधार पर सख्ती से पूछताछ की गई तब आरोपीगण अपना अपराध स्वीकार कर लिए जिन्होंने बताया कि :-
आरोपीगण अमन भवरे, राजू यादव, रामजनम यादव एवं एक नाबालिक सभी आपस में दोस्त है मृतक कृष्णा गंगावने घरेलू प्लास्टिक सामान,महेन्द्रा जीतो वाहन में भरकर फेरी लगाकर बेचता था । करीब 4-5 साल पहले कृष्णा गंगावने के मम्मी-पापा से अमन भवरे की मॉ 01 लाख रूपये उधार ली थी जिसका ब्याज सहित करीब 04 लाख हो गया था, कृष्णा गंगावने के माता-पिता ब्याज का पैसा दो बोलकर परेशान कर रहे थे करीब तीन माह पहले अमन भवरे की मॉ अपना जमीन बेचकर 01 लाख 70 हजार रूपये कृष्णा के मम्मी-पापा को वापस की थी उसके बाद भी 02लाख रूपये और दो बोलकर परेशान कर रहे थे । इस बात को लेकर अमन भवरे के मन में बदले की भावना उठ रही थी कि मात्र 01 लाख रूपये उधार देने के बाद भी ब्याज सहित 04 लाख रूपये देना पड़ रहा है साथ ही ब्याज का रकम लौटाने के लिए जमीन बेचना पड़ा है । इसलिए अमन भवरे ने कृष्णा गंगावने की हत्या का प्लान तैयार किया और प्लान में अपने साथी राजू यादव, रामजनम यादव और एक नाबालिक को शामिल किया । मृतक कृष्णा गंगावने से बातचीत कर उसके गतिविधियो पर नजर रखना शुरू किया । कुछ दिन पहले ईतवारी कोरबा बाजार सिंधी दुकान से सब्जी काटने का बड़ा चाकू खरीदा । दिनांक 04.03.2022 को आरोपीेगण को पता चला कि मृतक कृष्णा गंगावने सामान बिक्री करने हाटी तरफ जायेगा तब सभी लोग उसी दिन मर्डर करने का प्लान बनाये । शाम करीब 04ः30 बजे कृष्णा गंगावने अपने महेन्द्रा जीतो वाहन से सामान भरकर हाटी की ओर निकला उसके पीछे-पीछे अमन भवरे और एक नाबालिक होण्डा लिवो मोटर सायकल में एवं राजू यादव और रामजनम यादव, हीरो एचएफ डिलक्स मोटर सायकल में पीछा करने लगे । जब मृतक करतला के आगे पुल के पास पहॅुचा तो सभी लोग मिलकर मृतक को रूकवाये और गाड़ी से उतारकर लगभग 100 मीटर दूर खेत में ले गए और सब्जी काटने वाले चाकू से मृतक के सिर के पीछे तरफ वार कर हत्या कर दिए और मृतक के पेन्ट और जूता को उतार कर गाड़ी के सीट पर रख दिए फिर मृतक कृष्णा गंगावने के जीतो वाहन में जूट का बोरा लाकर, बोरे से लाश को ढंककर बॉटल में पेट्रोल निकालकर पेट्रोल छिड़ककर कृष्णा गंगावने के शव को आग लगाकर जला दिए , फिर पुलिस को भ्रमित करने के लिए कृष्णा गंगावने के जीतो वाहन को चचिया ढ़ाबा के पीछे पसरखेत रोड़ में ले जाकर खड़ी कर दिए और कृष्णा गंगावने के मोबाईल को बंद करके जहॉ गाड़ी को खड़ा किये थे उसके आगे फेक दिए । मामले में सभी आरोपीगण को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा जा रहा है । हत्या मे प्रयुक्त चाकू एवं 02 मोटर सायकल बरामद कर जप्त कर लिया गया है ।

*गिरफ्तार आरोपीगण के नाम इस प्रकार हैः-*

1- अमन भवरे पिता संजू भवरे उम्र 19 साल, स्थाई पता फजलबाड़ा गांधी चौक बिलासपुर, थाना कोतवाली, जिला- बिलासपुर (छ.ग.) वर्तमान पता- रानी रोड, मस्जिद के पीछे कोरबा, थाना – कोतवाली, जिला- कोरबा (छ.ग.)

2 – रामजनम यादव पिता रामनाथ यादव उम्र 48 साल, ग्राम निपनिया पोस्ट बहदुरा, थाना मनियार, जिला- बलिया (उ.प्र.) वर्तमान पता- राजेश यादव का घर राताखार, (टिनादफाई), कोरबा, थाना – कोतवाली, जिला- कोरबा (छ.ग.)

3 – राजू यादव पिता रमाशंकर यादव उम्र 26 साल, स्थाई पता ग्राम छाता, थाना बांसडी रोड, जिला- बलिया (उ.प्र.) वर्तमान पता- राताखार (टिनादफाई), कोरबा, थाना – कोतवाली, जिला- कोरबा (छ.ग.)

4 – एक नाबालिक

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -