Monday, July 22, 2024

आधी रात CM चन्नी का भांजा गिरफ्तार:अवैध रेत खनन केस में भूपिंदर हनी अरेस्ट, पंजाब में कांग्रेस के CM चेहरे के ऐलान से पहले ED का एक्शन

Midnight CM Channi's nephew arrested: Bhupinder Honey arrested in illegal sand mining case, ED's action before the announcement of Congress CM face in Punjab

- Advertisement -

cgtimesnews.com/ एनफोर्समेंट डायरेक्टोरेट ने अवैध रेत खनन मामले में सीएम चरणजीत चन्नी के भांजे भूपिंदर हनी को गिरफ्तार कर लिया है। ED ने हनी को पूछताछ के लिए जालंधर ऑफिस बुलाया था। ED ने भूपिंदर हनी को जालंधर में पूछताछ के लिए बुलाया था। जहां उससे करीब 7 से 8 घंटे की पूछताछ की गई। जवाबों से ईडी संतुष्ट नहीं हुई और उसे गिरफ्तार कर लिया। उसे रात करीब 1 बजे मेडिकल जांच के लिए जालंधर अस्पताल ले जाया गया। अब उसे रिमांड में लेकर पूछताछ होगी। हनी को आज कोर्ट में पेश किया जाएगा।

ये भी पढ़े मुंगेली जिले में हुई अनोखी चोरी : ग्रामीण के घर में बंधी 40 बकरियां ले भागे चोर, जिलेभर की पुलिस ने 36 घंटे मेहनत कर चोरों को दबोचा

ईडी ने 18 जनवरी को भूपिंदर हनी और उसके साथियों के ठिकानों पर मोहाली और लुधियाना में रेड की थी। इस दौरान 10 करोड़ कैश, 12 लाख की रोलैक्स घड़ी, 21 लाख का सोना बरामद किया था। ईडी ने 8 करोड़ हनी के मोहाली के होमलैंड स्थित घर और 2 करोड़ उसके पार्टनर संदीप के लुधियाना स्थित ठिकाने से बरामद किया था। सूत्रों के मुताबिक ईडी की जांच में यह भी सामने आया था कि हनी की साथियों के साथ एक कंसलटेंसी फर्म थी, जिसकी साल 2019-20 की टर्नओवर करीब 18 लाख थी। इसके बावजूद इतनी बड़ी रकम बरामद हुई।

ये भी पढ़े राजभाषा आयोग के पूर्व अध्यक्ष का निधन, सीएम बघेल ने जताया शोक…

सूत्रों की मानें तो ED की टीम ने करीब 8 घंटे की पूछताछ में भूपिंदर हनी से सीएम चन्नी से कनेक्शन के बारे में पूछताछ की। हनी से पूछा गया कि क्या यह रकम उनके मौसा यानी सीएम चन्नी ने उनके पास रखवाई थी? या यह अवैध रेत का कारोबार उनके मौसा का है?। हालांकि इसके बारे में हनी से कोई संतुष्टिजनक जवाब नहीं मिला। भूपिंदर हनी अपने घर से मिले 8 करोड़ के कैश के बारे में भी कोई संतुष्टिजनक जवाब नहीं दे सका।

ईडी ने दोपहर 3 बजे भूपिंदर हनी से पूछताछ शुरू की। जिसमें ईडी के वरिष्ठ अफसर मौजूद रहे। इसके बावजूद हनी से कोई संतुष्टिजनक जवाब नहीं मिला। इसके बाद ईडी ने उसे अरेस्ट करने कर लिया। जिस दौरान हनी ने घबराहट की शिकायत की। ईडी की टीम उसे जालंधर के सिविल अस्पताल ले गई। वहां जांच में वह पूरी तरह फिट मिला। हनी की सभी रिपोर्ट नॉर्मल आई। जिसके बाद ईडी उसे दफ्तर ले गई और वहां बंद कर दिया।

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -