Tuesday, July 23, 2024

आयकर विभाग के नए ई-फाइलिंग पोर्टल पर 6.63 करोड़ से अधिक आयकर रिटर्न (आईटीआर) और 99.27 लाख कानूनी फॉर्म दाखिल किये गए

- Advertisement -

15 मार्च, 2022 तक आयकर विभाग के नए ई-फाइलिंग पोर्टल पर आकलन वर्ष 2021-22 के लिए 6.63 करोड़ से अधिक आयकर रिटर्न (आईटीआर) दाखिल किए गए। यह तिथि, कंपनियों और अन्य करदाताओं के लिए आईटीआर दाखिल करने की नियत तारीख थी, जिन्हें टैक्स ऑडिट रिपोर्ट दाखिल करने की आवश्यकता थी। 15 मार्च, 2022 तक (पिछले साल की नियत तारीख तक 4.77 लाख की तुलना में) 5.43 लाख से अधिक आईटीआर दाखिल किए गए और पिछले 5 दिनों में (पिछले साल की नियत तारीख तक 11.87 लाख की तुलना में) 13.84 लाख से अधिक आईटीआर दाखिल किए गए।

आकलन वर्ष 2021-22 के लिए दाखिल किए गए 6.63 करोड़ आईटीआर में से 46% आईटीआर-1 (3.03 करोड़), 9% आईटीआर-2 (57.6 लाख), 15% आईटीआर-3 (1.02 करोड़), 26% आईटीआर-4 (1.75 करोड़), 2% आईटीआर आईटीआर-5 (15.1 लाख), आईटीआर-6 (9.3 लाख) और आईटीआर-7 (2.18 लाख) हैं। यह आकलन वर्ष 2020-21 के लिए 15.03.2021 तक दाखिल किये गए कुल आईटीआर की तुलना में 16.7 लाख से अधिक आईटीआर की वृद्धि को दर्शाता है।

इनमें से 43% से अधिक आईटीआर; पोर्टल पर ऑनलाइन आईटीआर फॉर्म का उपयोग करके दाखिल किए गए हैं और शेष को विभागीय सॉफ्टवेयर सहित ऑफ़लाइन आईटीआर सॉफ्टवेयर उपयोगिताओं से बनाए गए आईटीआर का उपयोग करके अपलोड किया गया है।

इसके अलावा, आकलन वर्ष 2021-22 के लिए दाखिल किए गए 6.63 करोड़ आईटीआर में से, 6.01 करोड़ से अधिक आईटीआर सत्यापित किए जा चुके हैं (आधार ओटीपी का उपयोग करके 75%)। सत्यापित आईटीआर में से, 5.17 करोड़ से अधिक आईटीआर की जांच की जा चुकी है और 15.03.2022 तक वर्ष 2021-22 के लिए 1.83 करोड़ रिफंड जारी किए गए हैं।

वित्त वर्ष 2021-22 में 15 मार्च, 2022 तक, 99.27 लाख से अधिक कानूनी फॉर्म नए पोर्टल पर दाखिल किए गए, जिनमें 26.19 लाख फॉर्म 3सीबी- सीडी, 2.76 लाख फॉर्म 3सीए-3सीडी, 20.9 लाख फॉर्म 15सीए, 5.4 लाख फॉर्म 15 सीबी, 2.27 लाख 10ए, 5.86 लाख 10ई, 77,634 फॉर्म 35 और 23.79 लाख टीडीएस विवरण शामिल हैं। फॉर्म 3सीएफए, 3सीईएए, 3सीएलए, 9ए, 10, 10 आईबी/आईसी/आईडी, 10 सीसीएफ, 56एफएफ को दाखिल करने की विस्तारित नियत तिथि 15 मार्च, 2022 थी, जिसके लिए 15 मार्च, 2022 तक लगभग 1.64 लाख फॉर्म दाखिल किये गए।

पोर्टल पर एक सहज अनुभव के साथ करदाताओं की सहायता के लिए, हेल्पडेस्क द्वारा केवल 15 मार्च, 2022 को ही 8,500 से अधिक करदाताओं की कॉल और 260 चैट का जवाब दिया गया था। आईटीआर और टैक्स ऑडिट रिपोर्ट (टीएआर) को अपलोड करने से संबंधित करदाताओं की शिकायतों को तेजी से हल करने के लिए दो ईमेल आईडी – (itr.helpdesk@incometax.gov.in) तथा (tar.helpdesk@incometax.gov.in) बनाए गए थे। इस संबंध में, 16,252 ईमेल प्राप्त हुए, जिनमें से 16,233 का समाधान 15 मार्च, 2022 तक किया गया। उपरोक्त के अलावा, विभाग लगातार सक्रिय रूप से अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल के माध्यम से करदाताओं और प्रोफेशनल के साथ जुड़ रहा, सीधे वीबेक्स कॉल्स/वेबिनार के माध्यम से संपर्क कर रहा है तथा परामर्श के जरिये सहायता प्रदान कर रहा है।

विभाग समय पर अनुपालन में सहायता के लिए सभी टैक्स प्रोफेशनल और करदाताओं का आभार व्यक्त करता है। करदाताओं और टैक्स प्रोफेशनल से यह भी ध्यान देने का अनुरोध किया जाता है कि विलंबित रिटर्न दाखिल करने, संशोधित रिटर्न, आधार और पैन को जोड़ने एवं मूल्यांकन के लिए ई-कार्यवाहियों के अनुपालन आदि की अंतिम तिथि 31.03.2022 है।

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -