Tuesday, July 23, 2024

एक महिला- दो प्रेमी:पहले के साथ लिव इन में रह रही थी, दूसरे ने रास्ते से हटाने युवक पर खौलता पानी डालकर तड़पाया, फिर मार डाला

- Advertisement -

जशपुर जिले में 2 बच्चे की मां के 2 प्रेमी थे। मगर महिला अपने पहले प्रेमी के साथ लिव इन में रह रही थी। यही बात दूसरे को मंजूर नहीं थी। इसलिए उसने पहले प्रेमी की ह्त्या की साजिश रच डाली। युवक ने मौका मिलते ही उस पर खौलता हुआ पानी डालकर, पहले उसे तड़पाया। इसके बाद फावड़ा से मारकर उसे मारने की कोशिश की। फिर भी जब उसकी मौत नहीं हुई तो उसने हथौड़ी से कई वार कर उसे मार दिया। वारदात के बाद वह भाग निकला था। लेकिन अब पुलिस आरोपी युवक तक पहुंच गई और उसे गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही घटना के संबंध मे साक्ष्य छिपाने और पुलिस को गुमराह करने के आरोप में महिला को भी गिरफ्तार किया गया है।

read more न्यायिक कर्मचारियों को मिला सायकल वाहन स्टैण्ड पार्किंग की सौगात

इस पूरे मामला का खुलासा तब हुआ जब जरिया निवासी सरोज लकड़ा के नए बन रहे मकान में राज मिस्त्री काम काम कर रहे प्रदीप मिंज(25) खून से लथपथ मिला था। सरोज लकड़ा को इस बात की सूचना दी गई थी। तब वह मौके पर गया था। इसके बाद प्रदीप मिंज को अस्पताल ले जाया गया था। वहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था।

read mre राताखार व टी.पी.नगर क्षेत्र में किया गया विशेष साफ-सफाई का कार्य

पति-पत्नी के मकान में रह रहे थे

प्रदीप की मौत के बाद पुलिस की टीम भी मौके पर गई थी। उस वक्त सरोज ने पुलिस को बताया कि वह जरिया गांव में नया मकान बनवा रहा है। उसी मकान मे प्रदीप और शोभा मुंडा(35) राज मिस्त्री का काम करते थे। दोनों पति-पत्नी के रूप में उसी मकान में रह रहे थे। सरोज ने यह भी बताया कि ये अंबिकापुर के गंगापुर के रहने वाले हैं। इनके साथ कुछ और लोग भी अंबिकापुर से काम करने के लिए यहां आई थे। मगर वह 2 हफ्ते काम करने के बाद चले गए थे।

प्रदीप के पिता ने बताया-वो उसकी प्रेमिका है

प्रदीप की मौत के बाद पुलिस ने प्रदीप के पिता को भी फोन किया था। पूछताछ में उसके पिता ने बताया था कि प्रदीप की पत्नी तो घर में है। उसके साथ जो महिला रह रही है। वह उसकी प्रेमिका है। दोनों लिव इन में रह रहे थे थे। चूंकि शोभा ने पुलिस को बताया था कि वह उसकी पत्नी है। इसलिए पुलिस ने इस केस में सबसे पहले शोभा से ही पूछताछ शुरू की।

शोभा ने यहां से शुरू किया गुमराह करना, पीएम रिपोर्ट से खुला मौत का राज

पूछताछ में शोभा ने पुलिस को बताया कि रात के वक्त हम सो रहे थे, तभी प्रदीप उठकर कहीं गया था और वह सीढ़ियों से गिर गया है। इसी वजह से उसकी मौत हुई है। इधर, डॉक्टरों ने पुलिस को शॉर्ट पीएम रिपोर्ट सौंप दी। जिसमें ये बात सामने आई कि प्रदीप की मौत हादसे मे नहीं बल्कि उसे किसी धारदार हथियार या वजनदार वस्तु से मारा गया है।

फिर ये कहानी बताने लगी शोभा

पुलिस ने रिपोर्ट के आधार पर भी शोभा से पूछताछ की तब भी उसने कोई दूसरी कहानी बताई। शोभा ने बताया कि प्रदीप की अंबिकापुर के संजय और एक अन्य के साथ पुरानी रंजिश थी। इसलिए संजय ने अपने साथी के साथ मिलकर उसे मार दिया। फिर वारदात को अंजाम देकर वह भाग गया है। पुलिस ने शोभा के इस बयान के आधार पर अंबिकापुर के गंगापुर से संजय और उसके साथ को पकड़ लिया और उसने पूछताछ शुरू की।

संजय ने बताया कि मैंने नहीं मारा

वहीं जब पुलिस ने संजय से पूछताछ की तो उसने पूरी कहानी की अलग बताई। उसने बताया कि मैं उस रात वहां गया ही नहीं था। हां मैंने वहां कुछ समय पहले काम जरूर किया था। लेकिन मैंने उसके हत्या नहीं की। इस पर पुलिस ने उनके बयान की जांच की और पड़ताल करने पर पता चला कि संजय सही कह रहा है। इसके बाद ही पुलिस को शोभा पर फिर शक हुआ तब पुलिस ने उससे सख्ती से पूछताछ की तो उसने पूरा सच कबूल कर लिया।

मैं शोभा को प्यार करता था-सिपक

पुलिस ने फिर से शोभा से पूछताछ की तब शोभा ने बताया कि सिपक इंदवार (25) ने पूरी वारदात को अंजाम दिया है। जिसके बाद पुलिस ने सिपक इंदवार को गिरफ्तार किया। पूछताछ में सिपक ने बताया कि वह शोभा को बहुत प्रेम करता था। उसको पत्नी बनाकर रखना चाहता था। मगर शोभा प्रदीप के साथ रह रही थी। वो प्रदीप के साथ ही रहना चाहती थी। इसी वजह से मैंने प्रदीप को रास्ते से हटाने का प्लान बनाया और 19-20 फरवरी की रात 12.30 बजे जशपुर पहुंच गया। तब मैंने देखा कि शोभा और प्रदीप सो रहे थे। वहीं बाहर में गर्म पानी रखा हुआ था। उसे ही उठाकर मैं सीधे अंदर गया और प्रदीप मिंज के ऊपर डाल दिया। तब तक शोभा उठ चुकी थी। पानी डालने के बाद वहीं रखे फावड़े को मैंने उठाया और उससे कई बार प्रदीप पर वार किया। पर उसकी जान नहीं गई। इसके बाद मैंने वहीं रखे हथौड़ी को भी उठाया और कई बार उसे पर वारकर उसकी हत्या कर दी। बाद में भाग गया था।

पति से अलग हो गई थी शोबा, प्रदीप के भी 2 बच्चे हैं

पुलिस ने बताया है कि संजय, प्रदीप, सिपक, शोभा सभी अंबिकापुर के गंगापुर के ही रहने वाले हैं। ये सभी पहले से एक दूसरे को जानते थे। शोभा के 2 बच्चे हैं,वह अपने पति से अलग होकर प्रदीप के साथ लिव इन में रह रही थी। वो गंगापुर में भी लिव इन में रहते थे। प्रदीप महिला से 10 साल उम्र में छोटा था। प्रदीप के भी 2 बच्चे हैं। जबकि सिपक की अभी शादी नहीं हुई थी। फिलहाल पुलिस इस मामले में जांच कर रही है। पुलिस इस एंगल से भी जांच कर रही है कि जब सिपक महिला से एक तरफा प्रेम करता था तो आखिर महिला ने उसे बचाने की कोशिश क्यों की थी।

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -