Monday, July 22, 2024

जेलेंस्की ने देश छोड़ने की खबरों को खारिज किया, बोले- यूक्रेन की रक्षा के लिए मैं कीव में डटा हूं

- Advertisement -

रूस ने गुरुवार को यूक्रेन पर तीन ओर से हमला कर दिया। दो दिन से हो रहे लगातार हमलों और कीव के घिर जाने के बाद भी राष्ट्रपति वोलोडिमिर जेलेंस्की अपने देश यूक्रेन में डटे हुए हैं। जेलेंस्की ने राजधानी कीव से एक वीडियो संदेश जारी किया है। उन्होंने कहा हम कीव में डटे हुए हैं, हम यूक्रेन की रक्षा कर रहे हैं। वीडियो के जरिए जेलेंस्की ने यूक्रेनी नेतृत्व और संसद के कीव में बने रहने की घोषणा की है।

यूक्रेन की राजधानी कीव में रूस के हमले रुक नहीं रहे हैं। अब तक हजारों लोगों की मौत हो चुकी है। बड़ी संख्या में लोग अंडरग्राउंड शेल्टर में डरे-सहमे बैठे हैं। इसी बीच खबरें आ रही थीं कि यूक्रेन के राष्ट्रपति देश को युद्ध में छोड़कर भाग गए हैं। जेलेंस्की ने यह वीडियो जारी कर ऐसी खबरों को अफवाह बताया है।

युद्ध शुरू होने के बाद यूक्रेन के राष्ट्रपति का यह दूसरा वीडियो है। इससे पहले जेलेंस्की ने एक वीडियो जारी कर भावुक अपील की थी। जेलेंस्की ने कहा, ‘मैं, मेरा परिवार और मेरे बच्चे सभी यूक्रेन में हैं। वे गद्दार नहीं हैं, वे यूक्रेन के नागरिक हैं। यूक्रेन के राष्ट्रपति ने कहा कि मुझे पता चला है कि रूस का पहला टारगेट मैं हूं वहीं मेरा परिवार उनके दूसरे टारगेट पर है।

वोलोडिमिर जेलेंस्की ने कहा कि रूस उन्हें खत्म कर यूक्रेन को राजनीतिक रूप से बर्बाद करना चाहता है। फिलहाल रूस यूक्रेन की राजधानी कीव को घेरने की कोशिश में है।

पुतिन ने यूक्रेन सैनिकों को दी सरेंडर करने की सलाह
जंग के बीच, पहली बार रूस के राष्ट्रपति वोलोडिमिर जेलेंस्की ने देश के नाम संबोधन दिया। कहा- हमारी स्ट्रैटजी और इरादे बिल्कुल साफ हैं। हम यूक्रेन पर कब्जा नहीं करना चाहते। इसलिए यूक्रेन की फौज को चाहिए कि वो फौरन सरेंडर करे। यूक्रेन के तमाम लोगों को वहां की सरकार ने बंधक बना लिया है। वोलोडिमिर जेलेंस्की की सरकार ड्रग एडिक्ट और नाजियों का गिरोह है। यूक्रेन की फौज को वहां की सरकार का तख्तापलट करके सत्ता अपने हाथ में ले लेनी चाहिए

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -