Saturday, July 20, 2024

जेल आरक्षक को महिला ने पहुंचाया सलाखों के पीछे, जाने क्या है वजह

- Advertisement -

नीमच में एक जेल कॉन्स्टेबल को लोकायुक्त ने तीन हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा है। जिस महिला ने उसे पकड़वाया उसका पति खुद ही 2015 में 20 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए पकड़ा गया था। नीमच में एक जेल कॉन्स्टेबल को लोकायुक्त ने तीन हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा है। जिस महिला ने इस कॉन्स्टेबल को पकड़वाया उसका पटवारी पति खुद ही 2015 में 20 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए पकड़ा गया था। इसी मामले में वह जेल में सजा काट रहा है।

दरअसल, पटवारी कमल किशोर चौधरी रिश्वतखोरी के मामले में चार साल की सजा काट रहे हैं। उन्हें भी लोकायुक्त पुलिस ने ही ट्रैप किया था। उनकी पत्नी मंगला गुर्जर ने पति से मिलने और जेल में उसे सुविधाएं देने के लिए जेल आरक्षक से संपर्क किया। उसने इसके बदले में उससे 4,500 रुपये की मांग की थी। मंगला ने इसकी शिकायत लोकायुक्त से कर दी। फिर आरक्षक गिर्राज राजपूत को ट्रैप किया गया।

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -