Monday, July 15, 2024

* धोखाधड़ी का आरोपी दिल्ली से गिरफ्तार, बैंक से लोन दिलाने के नाम पर 97 लाख रुपए हुआ था ठगी*   

- Advertisement -

कोरबा। मामले का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है कि दिनांक 02.11.21 को प्रार्थी

मोहेन्द्र कुमारसाहू पिता सीताराम साहू उम्र 35 साल साकिन ई/251 केटु बिहार एनटीपीसी कालोनी दर्री द्वारा प्रथम सूचना पत्र दर्ज कराया कि वह प्रधानमंत्री इंप्लाईमेंट जनरेशन प्रोग्राम के तहत मुद्रा लोन हेतु आनलाईन पीएमजीईपी बेबसाईट पर जाकर

आवेदन किया ,जो पवन कुमार, जयकिशन, अनिलदत्त, विजय कुमार, नितिन सिंहा, राहुल

वर्मा के द्वारा फोन से अपने को पीएमजीईपी का लोन प्रदायकर्ता एवं खादी ग्रामीण इण्डस्ट्रीज तथा कोटेक महिन्द्रा बैंक का अधिकारी कर्मचारी बताते हुये लोन स्वीकृत करने

के लिये पैसा जमा करने को कहने पर उनके द्वारा बताये गये विभिन्न खातों पर दिनांक 15.09.2020 से 01.10.2021 के मध्यावधि में कुल 9729256/- रू0 जमा किया परंतु आरोपियों द्वारा लोन प्रदाय नहीं किया गया। इस तरह आरोपियों द्वारा धोखाधडी कर

9729256 रू0 ठगी करने की प्रार्थी की रिपोर्ट पर थाना दर्री में धारा 420 भादवी का अपराध कायम किया गया है।

प्रकरण की गभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक कोरबा श्री भोजराम पटेल द्वारा थाना प्रभारी अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री अभिषेक वर्मा के मार्गदर्शन ,नगर पुलिस अधीक्षक दर्री सुश्री लितेश सिंह में पर्यवेक्षण,थाना प्रभारी दर्री के नेतृत्व में साइबर सेल टीम को प्रकरण के आरोपियों को गिरफ्तार करने का जिम्मेदारी सौंपा गया ।

प्रकरण की विवेचना में पाया गया कि आरोपियों द्वारा छद्म नामों एवं फर्जी मोबाइल एवं सीम

का उपयोग कर प्रार्थी को प्रलोभन देकर एवं विश्वास में लेकर विभिन्न बैक खातों में

धोखाधडी से रकम जमा कराया गया है । प्रकरण में पूर्व में 02 आरोपी नितिन कुमार एवम विजय कुमार को गिरफ्तार किया गया है ।आरोपियों ने बताया कि आरोपी नितिन कुमार सिंहा द्वारा अन्य आरोपियों के साथ मिलकर संगठित गिरोह तैयार कर धोखाधडी को अंजाम दिया

गया है। आरोपी विजय कुमार मोबाइल दुकान संचालक है। जो फर्जी सीम एवं बैक खाता

उपलब्ध कराता था । राहुल वर्मा टीम का मैनेजमेंट देखता था । पूर्व में प्रकरण में आरोपी नितिन सिंहा से 01 लाख रू0 नगद, एक फ्लैट,सोने चांदी के जेवर तथा आरोपी विजय कुमार से 30 हजारा रू0 एक मोबाइल जप्त किया गया है।

दिनांक 18-02-2022 एक अन्य आरोपी राहुल वर्मा को दिल्ली से गिरफ्तार कर लाया गया है । आरोपी राहुल वर्मा के पास से 25 हजार रू0 एवं उसका मोबाइल जप्त किया गया है। आरोपी राहुल वर्मा को न्यायिक रिमांड पर भेजा जा रहा है ।

उपरोक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी दर्री निरीक्षक पौरुष पुर्रे , सायबर सेल प्रभारी उपनिरीक्षक कृष्णा साहू , प्रधान आरक्षक चक्रधार राठौर ,आरक्षक विकास कोसले, वीरेंद्र पटेल, योगेश राजपूत एवं विरकेश्वर सिंह की भूमिका महत्वपूर्ण रही है ।

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -