Saturday, July 20, 2024

फिल्मी क्लाइमेक्स…थाने से प्रेमी को ले गई दुल्हन:​​​​​​​रिश्तेदारों ने घेरा तो बनी ढाल, लौटाया मंगलसूत्र; दूल्हा बोला- जा माफ किया तुझे

- Advertisement -

शादी के बाद प्रेमी के साथ फरार हुई दुल्हन की फिल्मों जैसी प्रेम कहानी का क्लाइमेक्स भी फिल्मी ही रहा। छ्त्तीसगढ़ के कांकेर की इस घटना में पुलिस ने दुल्हन और उसके प्रेमी को पकड़ने के बाद लड़के के खिलाफ मामला दर्ज किया, लेकिन एक दिन बाद पुलिस ने प्रेमी को छोड़ा तो दूल्हा अपने रिश्तेदारों को लेकर थाने पहुंच गया। लड़की वाले भी आ गए। रिश्तेदारों ने प्रेमी को बाहर ही घेर लिया। अब बारी दुल्हन की थी, जो अपने प्रेमी की ढाल बन गई। उसने दूल्हे को मंगलसूत्र लौटा दिया। आखिरकार सब मान गए। इसके बाद युवती अपने प्रेमी के साथ ही थाने से रवाना हुई। अब जल्द ही दोनों शादी करेंगे।

raed more मलाला-मरियम का दोहरा रवैया:भारत के हिजाब विवाद में मुस्लिम लड़कियों का सपोर्ट, लेकिन सिंध की राजपूत लड़कियों के रेप पर खामोशी

दरअसल, दंतेवाड़ा निवासी आरती सहारे और बस्तर के बकावंड निवासी विकास गुप्ता के बीच लंबे समय से प्रेम-प्रसंग चल रहा है, लेकिन परिजन शादी के लिए तैयार नहीं थे। उन्होंने आरती की शादी महाराष्ट्र के एक युवक से तय कर दी। दोनों की शादी 6 फरवरी को हुई। पति के साथ आरती विदा हुई, लेकिन राजनांगदांव के मानपुर क्षेत्र से प्रेमी विकास संग फरार हो गई। अगले दिन 7 फरवरी को कांकेर में पुलिस ने उन्हें पकड़ लिया। इसके बाद मंगलवार को दिनभर थाने में ड्रामा चलता रहा। फिर लड़की को परिजनों को सौंप दिया गया।

read more एक बार फिर प्रदर्शन का अड्डा बना शाहीन बाग, हिजाब के समर्थन में सड़कों पर उतरीं महिलाएं

थाने में बोली- प्रेमी के साथ ही जाऊंगी
उसी दिन देर शाम फिर दूल्हा अपने रिश्तेदारों को लेकर कांकेर थाने पहुंच गया। दुल्हन की मां अपने रिश्तेदारों को लेकर और प्रेमी का भाई भी थाने में पहुंच गए। पुलिस के सामने फैमली ड्रामा काफी देर तक चलता रहा। पुलिस ने पहले प्रेमी का मामला खत्म कर उसे थाने से बाहर भेज दिया। वह मायूस होकर बाहर गया। इसी दौरान दुल्हन ने भी स्पष्ट कर दिया कि वह अपने प्रेमी के साथ ही जाएगी। इस पर मां ने अनुमति दे दी। दुल्हन प्रेमी को तलाशते हुए थाने से बाहर आई, तो देखा कि दूल्हे के रिश्तेदारों ने उसे घेर रखा है।

आरती के तेवर देख सब पीछे हटे
इससे पहले प्रेमी संग कुछ अनहोनी होती प्रेमिका उसकी ढाल बनकर सामने आ गई। आरती ने कहा कि विकास के साथ कुछ भी होगा, तो वह किसी को नहीं छोड़ेगी। प्रेमिका के तेवर देखकर सभी पीछे हट गए। दोनों के प्यार को देखकर दूल्हे को भी झुकना पड़ गया। आखिर में दूल्हे ने कहा, जा तूझे 8 बार माफ कर चुका हूं। अब एक बार और माफ किया। इसके बाद आरती ने उसका मंगलसूत्र दूल्हे को लौटा दिया और विकास का हाथ पकड़कर घर के लिए रवाना हो गई।

दूल्हे ने रख लिया आरती का मोबाइल, दुरुपयोग का डर
इस कहानी में यह भी एक पेच है कि आरती ने तो गहने सहित सारा सामान लौटा दिया, लेकिन उसका मोबाइल दूल्हे ने ही रख लिया। आरती ने कहा, उसे डर है कि उस मोबाइल में उसके सिम के अलावा वॉट्सऐप आदि भी हैं। बदला लेने की भावना से उसका दुरूपयोग किया जा सकता है। उसने मोबाइल लौटाने की मांग की है।

जल्द बजेगी शहनाई, परिवार भी खुश
आरती और विकास अब अपने घर में हैं। विकास ने कहा उसके परिजनों ने भी दोनों को स्वीकार कर लिया है। अब शादी की तैयारी चल रही है। जल्द ही दस्तावेजी प्रक्रिया पूरी होने पर कोर्ट में या फिर आर्य समाज में शादी की जाएगी। परिवार के लोग भी शादी के बाद आरती के आगे पढ़ने सहमत हैं।

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -