Saturday, July 20, 2024

बिजली ट्रांसफॉर्मर से झुलस गई चार साल की मासूम, ऑपरेशन से पहले पता चला कोरोना भी है, अब कोविड ICU में

- Advertisement -

cgtimesnews.com कोरोना महामारी रोज विडंबनाओं की तस्वीर दिखा रहा है। कोरबा की एक चार साल की मासूम बच्ची बिजली के झटके से झुलस गई। इलाज के लिए उसे रायपुर लाया गया। ऑपरेशन से पहले पता चला कि उसे कोरोना है। उसका ऑपरेशन का शेड्यूल टाल दिया गया। उसे कोरोना वार्ड में भर्ती करने के लिए दूसरे अस्पताल लाया गया, जहां उसे ICU में रखा गया है।

कोरबा से आई चांदनी ने बताया, उसकी चार साल की बहन मीनाक्षी ने अनजाने में घर के पास लगे ट्रांसफॉर्मर को छू लिया। इसकी वजह से उसके दोनों हाथ झुलस गए। सभी लोग उसे लेकर रायपुर आए। यहां डीकेएस अस्पताल में उसे ले जाया गया। वहां ऑपरेशन होना था। वहां बताया गया कि उसको कोरोना है। यहां भर्ती नहीं की जा सकती। इसे मेडिकल कॉलेज के अस्पताल ले जाएं। उसके बाद परिजन बच्ची को मेडिकल कॉलेज अस्पताल लाए हैं। अस्पताल प्रबंधन का कहना है, बच्ची को ICU में रखकर निगरानी की जा रही है। सर्जन ने उसकी जांच कर ली है। उसके इलाज की प्रक्रिया चल रही है। इसमें कोई कोताही नहीं होगी। डॉक्टरों का कहना है, कोरोना संक्रमण का असर संभावनाओं से कहीं अधिक व्यापक है। एकदम सामान्य से दिख रहे लोग भी कोरोना पॉजिटिव हो सकते हैं। दुर्घटनाओं और दूसरी बीमारियों के शिकार लोग जब अस्पताल पहुंच रहे हैं तो संक्रमित होने का पता चल रहा है।

मंगलवार काे 16 मरीजों की मौत

छत्तीसगढ़ में कोरोना मरीजों के मौत की दर बढ़ी हुई दिख रही है। मंगलवार को 16 मरीजों की मौत दर्ज हुई है। इसमें से 12 लोग ऐसे थे जिनको दूसरी गंभीर बीमारियों और दुर्घटनाओं की वजह से अस्पताल लाया गया था। यहां कोरोना संक्रमण का पता चला। 4 मरीजों की मौत केवल कोरोना की वजह से हुई। 31 जनवरी को प्रदेश में 19 मरीजों की जान गई थी। अब तक 13 हजार 869 लोगों की जान इस महामारी की वजह से जा चुकी है।

कम मरीज मिले, संक्रमण दर भी नीचे आया

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक मंगलवार को प्रदेश भर में 47 हजार 509 सैंपल इकट्‌ठे किए गए। इस दौरान तीन हजार 241 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। संक्रमण दर घटकर अब 6.82% रह गई है। सोमवार को संक्रमण दर 7.36% थी। 30 जनवरी को यह दर 9.14% थी। 29 जनवरी को यह 8.62% थी। 28 जनवरी को 8.24% और 26 संक्रमण दर 15.81% दर्ज हुई थी।

एक दिन में 5600 मरीजों की छुट्‌टी

मंगलवार को प्रदेश भर में 5600 मरीजों को सात दिनों के इलाज के बाद डिस्चार्ज किया गया। इसमें से केवल 148 लोग अस्पतालों में थे। मार्च 2020 से अब तक 11 लाख 29 हजार 104 लोग इस महामारी की चपेट में आ चुके हैं। इनमें से 10 लाख 94 हजार 73 लोगों के स्वस्थ हो जाने की खबर है। वहीं 13 हजार 869 लोगों की जान जा चुकी है। अभी भी 21 हजार 162 लोग होम आइसोलेशन और अस्पतालों में अपना इलाज करवा रहे हैं।

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -