Sunday, July 21, 2024

रूसी विदेश मंत्री का बड़ा बयान, रूस ने कभी युद्ध नहीं चाहा; यूक्रेन में सेना नहीं भेजेगा अमेरिका

- Advertisement -

रूस-यूक्रेन युद्ध का आज 16वां दिन है। रूसी सेना कीव के और करीब पहुंच गई है। उधर, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में शुक्रवार को रूसी के उस दावे पर बात होगी जिसमें रूस ने कहा है कि यूक्रेन की जमीन पर अमेरिकी सेना की जैविक गतिविधियां देखी गई हैं। उधर, रूस ने हर दिन सुबह 10 बजे अपनी ओर से मानवीय गलियारा बनाने की बात कही है, जिससे युद्ध में फंसे नागरिकों को निकाला जा सके या उन्हें मानवीय सहायता पहुंचाई जा सके।

संयुक्त राष्ट्र ने कहा है कि यह समय युद्ध प्रभावितों को समर्थन देने और उनके प्रति एकजुटता दिखाने का है। वहीं यूक्रेन के शिक्षा मंत्री ने दावा किया है कि रूस ने उनके देश में 280 स्कूल-कॉलेज तबाह कर दिए हैं।

इस बीच रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लवरोव का एक बड़ा बयान आया है। उन्होंने कहा कि रूस ने कभी युद्ध नहीं चाहा, यहां तक कि उन्होंने अभी चल रहे युद्ध को खत्म करने की मांग की। यूक्रेन और टर्की के विदेश मंत्रियों के साथ बैठक के बाद लवरोव ने कहा कि वे कीव की सुरक्षा गारंटी पर बातचीत को तैयार हैं। उन्हों‌ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और यूक्रेन के राष्ट्रपति वोल्दोमिर जेलेंस्की के बीच बैठक की संभावना से भी इनकार नहीं किया। उन्होंने कहा कि उन्हें नहीं लगता कि न्यूक्लियर युद्ध शुरू होगा।

यूक्रेन के 280 स्कूल-कॉलेज तबाह
यूक्रेन के शिक्षा मंत्री ने कहा है कि रूस ने बमबारी और हवाई हमले कर देश के 280 स्कूल-कॉलेजों को तबाह कर दिया।

कीव के और करीब पहुंची रूसी सेना
उधर, रूस ने यूक्रेन के चार बड़े शहरों को घेर लिया है और राजधानी कीव की सीमा के करीब तक पहुंच चुकी है। ताबड़तोड़ रूसी हमलों के बावजूद पूरब में खार्किव अभी यूक्रेन के पास है। वहीं उत्तर पूर्व में सूमी रूसी सैनिकों के घेरे में है, लेकिन मानवीय कारिडोर के जरिए यहां से हजारों लोग सुरक्षित निकलने में कामयाब रहे। इसके अलावा राजधानी कीव भी अभी यूक्रेन के पास है। कीव पर रूस की पैनी नजर है और शहर की सीमा पर चारों ओर से रूसी सैनिकों के वाहन देखे जा सकते हैं। पिछले दो दिनों में यूक्रेन के सुमी और कीव से 80 हजार लोगों को निकाल गया।
कमला हैरिस की हंसी पर विवाद
अमेरिका की उप राष्ट्रपति यूक्रेन युद्ध के कारण हंगरी में शरणार्थी संकट पर प्रेस कांफ्रेस के दौरान किसी बात पर हंसी। इस पर यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की की पूर्व प्रेस सचिव यूलिया मेंडेल का एक ट्वीट चर्चा में आया। उन्होंने लिखा कि यदि हैरिस अमेरिका की राष्ट्रपति बनती हैं तो यह एक त्रासदी होगी। हालांकि, इस पर विवाद बढ़ा तो उन्होंने ट्वीट डिलीट कर दिया।

अमेरिका अपनी सेना यूक्रेन नहीं भेजेगा
अमेरिका ने कहा है कि रूस के खिलाफ युद्ध लड़ने के लिए अमेरिकी सेना को यू्क्रेन भेजने की उसकी कोई मंशा नहीं है। व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव जेन साकी ने कहा कि हमारा यह आंकलन इस बात पर आधारित है कि किस तरह विश्व युद्ध को टाला जाए। उधर, अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने तुर्की के राष्ट्रपति तैयप एर्दोगन से रूस-यूक्रेन ​​​​युद्ध को लेकर बात की। इसमें रूस को युद्ध के लिए जिम्मेदार ठहराने के लिए लगातार बनाए जा रहे अंतरराष्ट्रीय दबाव के महत्व को लेकर चर्चा हुई।
हर दिन मानवीय कॉरिडोर बनाएगा रूस
रूस ने घोषणा की है कि वह हर दिन सुबह 10 बजे से मानवीय कॉरिडोर ओपन करेगा। यह रूस की ओर से होगा। इसके लिए यूक्रेन सरकार की अनुमति नहीं ली गई है।
परमाणु सुरक्षा पर यूक्रेन-रूस में बना संपर्क
यूक्रेन ने अंतरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी को सूचित किया है कि उसका चेर्नोबिल न्यूक्लियर पावर प्लांट से संपर्क पूरी तरह खत्म हो गया है। मालूम हो कि इस प्लांट पर रूसी सेना कब्जा कर चुकी है। एजेंसी के डायरेक्टर जनरल राफेल मारियानो ग्रोसी ने ट्वीट कर यह जानकारी दी। हालांकि, उन्होंने कहा कि एजेंसी परमाणु सुरक्षा को लेकर रूस और यूक्रेन के बीच उच्च स्तर पर संपर्क स्थापित कर दिया है।

यूक्रेन युद्ध के ताजा अपडेट्स…

  • रूस ने यूक्रेन के ‘बायोलैब्स’ पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद से बैठक करने की मांग की है।
  • वोल्दोमिर जेलेंस्की ने रूसी संपत्ति को जब्त करने के लिए कानून पर साइन कर दिए हैं।
  • संयुक्त राष्ट्र जनरल असेंबली में संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुतेरेस ने कहा कि यूक्रेन युद्ध प्रभावितों को समर्थन के लिए सहयोग और एकजुटता दिखाना चाहिए। यह युद्ध अंतरराष्ट्रीय कानून का खुला उल्लंघन है।
  • यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की ने आरोप लगा है कि मारियुपोल से नागरिकों को निकालने के लिए बनाए गए गलियारे पर रूसी सेना ने हमला किया।
  • अमेरिकी उप राष्ट्रपति कमला हैरिस ने यूक्रेन युद्ध से प्रभावित हुए नागरिकों की मदद के लिए 5.3 करोड़ डॉलर की मदद देने की घोषणा की है।
  • रूस खार्किव, ओब्लास्ट में अमोनिया के गोदामों को उड़ाने पर विचार कर रहा है।
  • रूस के डिप्टी PM और उर्जा मंत्री अलेक्जेंडर नोवाक ने भारत के पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिहं पुरी से बातचीत कर दोनों देशों के ईंधन और ऊर्जा प्रोजेक्ट्स में सहयोग पर चर्चा की। रूस ने रूस की यूनिवर्सिटीज में भारतीयो छात्रों को पढ़ने का मौका देने जैसे मुद्दों पर भी बात की।
  • यूक्रेन के सुमी से निकाले गए भारतीयों को लेकर पोलैंड के रेजेत्जो से रवाना हुआ एअर इंडिया का विमान शुक्रवार सुबह 5.45 बजे दिल्ली में उतर गया
- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -