Saturday, July 20, 2024

रेप मामले में गवाही दी तो घर में किया ब्लास्ट:सोते वक्त अचानक फटा था सिलेंडर, एक की मौत, 3 हुए थे घायल; अब 2 गिरफ्तार

- Advertisement -

जांजगीर जिले में घर में सिलेंडर ब्लास्ट कर परिवार को झुलसाने के मामले में पुलिस ने 2 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों ने पीड़ितों के घर पर इसलिए ब्लास्ट किया था क्योंकि परिवार के एक शख्स ने आरोपी के खिलाफ रेप मामले में गवाही दी थी। घटना के वक्त परिवार घर में सो रहा था। इसी दौरान अचानक सिलेंडर ब्लास्ट हुआ था। जिसकी चपेट में आने से परिवार के 4 लोग झुलस गए थे। इसमें एक ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया था। मामला हसौद थाना क्षेत्र का है।

ये घटना 05 अक्टूबर 2021 को हुई थी। उस दिन चिस्दा निवासी गोरेलाल कुर्रे घर में अपनी पत्नी और 2 बच्चों के साथ सो रहा था। उस दौरान रात को करीब डेढ़ बजे ब्लास्ट हुआ था। ब्लास्ट की चपेट में आने से चारों गंभीर रूप से घायल हुए थे। ब्लास्ट की आवाज सुन आस-पास के लोग पहुंचे थे। जिसके बाद चारों को अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

9 अक्टूबर हुई थी मौत

बाद में गोरेलाल कुर्रे की हालत को देखते हुए उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां उसने पुलिस को बताया था कि उसके घर पर ब्लास्ट गांव के ही करन कुर्रे, दसल्लू केवट, समारू केवट और अर्जुन कुर्रे ने किया है। उसने बताया कि वारदात को अंजाम देकर वह भाग गए थे। गोरेलाल ने बताया कि मैंने रेप के मामले में करन कुर्रे के खिलाफ बयान दिया था। जिसका बदला लेने उसने घर में सिलेंडर ब्लास्ट किया। 09 अक्टूबर को इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई थी।

2 आरोपी अब भी फरार हैं

गोरेलाल के इस बयान के बाद पुलिस ने चारों आरोपी के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया था। केस दर्ज करने के बाद से ही पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही थी। मगर किसी का पता नहीं चल रहा था। अब पुलिस ने इस मामले में दसल्लू केवट(39) और समारू केवट(70) को गिरफ्तार किया है। जबकि मुख्य आरोपी करन और एक अन्य अभी फरार हैं। बताया जा रहा है कि गोरेलाल का घर सीमेंट से बनी शीट से ढ़का हुआ था। जिसके कारण वो शीट उड़ गय। यदि घर में पक्की छत होती तो हादसा बड़ा हो सकता था। आस-पास के घर भी उसकी चपेट में आ सकते थे।

ऐसे किया था ब्लास्ट

आरोपियों ने बताया कि उस रात हम गोरेलाल के घर में घुसे थे। इसके बाद सिलेंडर में अलग से रेगुलेटर लगाया। फिर उसमें एक 15 फीट का लेबल पाइप लगा दिया। उस पाइप को हम घर से बाहर ले गए थे। बाहर ले जाने के बाद उसी पाइप में हमने आग लगाई थी। जो ब्लास्ट हुआ।

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -